केन्द्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाना सुनिश्चित करें अधिकारी – कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी

केन्द्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाना सुनिश्चित करें अधिकारी – कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी
टिहरी : प्रदेश के कृषि एवं कृषक कल्याण, सैनिक कल्याण एवं ग्राम्य विकास विभाग मंत्री गणेश जोशी ने शनिवार को विकास भवन सभागार नई टिहरी में विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। इस मौके पर कैबिनेट मंत्री ने जल संरक्षण, एनआरएलएम, कृषि, उद्यान, सैनिक कल्याण, जल संस्थान एवं पीएमजीएसवाई के कार्यों की स्थिति की जानकारी लेते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। केन्द्र एवं राज्य सरकार का लक्ष्य जनता की सरकार, जनता के द्वार का है, इसलिए अधिकारी सरकार की योजनाओं का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार करने के साथ ही पात्र व्यक्तियों को लाभ पहंुचाना सुनिश्चित करें। बैठक में कैबिनेट मंत्री ने समीक्षा के दौरान अधिकारियों को पूर्ण तैयारी एवं आंकड़ों के साथ बैठक में उपस्थित होने के निर्देश दिये। कहा कि अधिकारी फिल्ड में जाकर किसानों की समस्याओं को सुनकर उनका समाधान करें।
समीक्षा बैठक में कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने जल संरक्षण के कार्याें की जानकारी लेते हुए भूमि सुधारीकरण, वनीकरण एवं विभिन्न विभागों द्वारा कन्वर्जन में कार्य करने पर जोर देने को कहा। पर्यटन को बढ़ावा देने हेतु अमृत सरोवरों को व्यवस्थित करें। ट्राउट फिश को कलस्टर बेस पर करने तथा समितियां बढ़ाने को कहा गया। राज्य सरकार का संकल्प स्वयं सहायता समूह की बहनों को 2025 तक डेढ लाख बहनों को लखपति दीदी बनाये जाने का लक्ष्य है, इसको लेकर कार्य करने के निर्देश दिये गये, इस पर पीडी डीआरडीए ने बताया कि जनपद में 07 हजार 276 बहनें लखपति दीदी हैं।   सैनिक कल्याण विभाग की समीक्षा के दौरान विद्यालयों एवं मार्गों का नाम शहीद सैनिकों के नाम से करने, सैनिक विश्राम गृह नरेन्द्रनगर के मरम्मत कार्याें का प्रस्ताव उपलब्ध कराने तथा सैनिक विश्राम गृह ठहरने का शुल्क बढ़ाने को कहा गया।
कृषि विभाग की समीक्षा के दौरान कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने मिलेट्स, फसल बीमा, जैविक उत्पाद, पीएम किसान निधि, आत्मा योजना, बीज एवं रसायन वितरण आदि की जानकारी लेते हुए कहा कि प्रदेश का मोटा आनाज (मिलेट्स) सबसे बेहत्तर पाया गया है, इसके उत्पादन को बढ़ाने हेतु कार्य करें। उद्यान विभाग की समीक्षा के दौरान बीज वितरण, फसल बीमा, पॉलीहाउस, मशरूम, मौन पालन, फूड प्रोसेसिंग यूनिट आदि की जानकारी लेते हुए किसानों को उनकी मांग के अनुसार समय से बीज उपलब्ध कराने तथा उपज को पहुंच मार्ग तक लाने हेतु ट्राली लगाने के निर्देश दिये गये।
जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने बताया कि जल संरक्षण एवं संवर्द्धन के तहत पंरपरागत स्रोतों को रिचार्ज करने के कार्य किये जा रहे हैं। विद्यालयों एवं मार्गों का नाम शहीद सैनिकों के नाम से किया जा रहा है और वर्तमान में कोई भी प्रकरण लम्बित नहीं है। विभागीय अधिकारियों द्वारा अपने-अपने विभाग की योजनाओं की स्थिति से अवगत कराया गया।
बैठक में सीडीओ डॉ. अभिषेक त्रिपाठी, जिलाध्यक्ष भाजपा राजेश नौटियाल, ब्लॉक प्रमुख चम्बा शिवानी बिष्ट, पूर्व ब्लॉक प्रमुख जाखणीधार जे.पी. रतूड़ी, मीडिया प्रभारी भाजपा प्रमोद उनियाल, पीडी डीआरडीए विवेक उपाध्याय, डीडीओ मो. असलम, सीएओ अभिलाषा भट्ट, सैनिक कल्याण अधिकारी योगेन्द्र सिंह, ईई जल संस्थान प्रशान्त भारद्वाज, ईई जल निगम के.एन. सेमवाल, ईई पीएमजीएसवाई पवन कुमार सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।