भाजपा प्रत्याशी ने पोखरी के गांवों तथा कांग्रेस के नेताओं ने उर्गम घाटी में किया जनसंपर्क

भाजपा प्रत्याशी ने पोखरी के गांवों तथा कांग्रेस के नेताओं ने उर्गम घाटी में किया जनसंपर्क

गोपेश्वर/पोखरी (चमोली)। चमोली जिले की बदरीनाथ विधान सभा के उप चुनाव को भाजपा और कांग्रेस ने नाक का सवाल बना दिया है। दोनों की दलों के नेता गांव-गांव पहुंचकर अपने-अपने प्रत्याशियों के लिए जनता से आशीर्वाद मांग रहे है। रविवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जोशीमठ के उर्गम घाटी पहुंचे तो भाजपा प्रत्याशी ने पोखरी के गांवों में पहुंचकर अपने-अपने पक्ष में मतदान करने की अपील आम जनता से की।

भाजपा प्रत्याशी राजेंद्र सिंह भंडारी ने रविवार को पोखरी विकास खंड के  कनचैरी, पोखठा, गोदीगिंवाला, ब्राह्मण थाला, ताली कंसारी, खन्नी, वल्ली आदि गांवों में घर-घर जाकर जनता का आशीर्वाद मांगा। भाजपा प्रत्याशी ने कहा कि कहा विपक्ष में रहें कर विकास के कार्य नही हो पा रहें थे। उन्होंने कहा भाजपा ही एक ऐसी पार्टी है जो क्षेत्र का विकास कर सकती है। भाजपा की केन्द्र सरकार ने गरीबों को आवास योजना, किसान सम्मान निधि, सहित विभिन्न योजनाएं चलायी और आमजन आज इन योजनाओं का लाभ रहें हैं। उन्होंने कहा भाजपा का कार्यकर्ता रात दिन प्रचार प्रसार में जुटा हुआ है। कांग्रेस पार्टी केवल भ्रम फैलाने का काम कर रही है। इस अवसर पर  मंडल अध्यक्ष बीरेंद्र राणा, युवा मोर्चा प्रदेश प्रवक्ता मयंक पंत, विजय पाल सिंह, मनोज भंडारी, संतोष चैधरी आदि मौजूद थे।

वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने कांग्रेस प्रत्याशी लखपत बुटोला के समर्थन में उर्गम घाटी में जनता से संपर्क कर प्रत्याशी के लिए आशीर्वाद मांगा। उन्होंने उर्गम पहुंच कर पंचकेदार कल्पेश्वर के दर्शन कर प्रदेश की सुख समृद्धि की कामना की। उन्होंने पार्टी प्रत्याशी के पक्ष में मतदान करने की अपील करते हुए भाजपा प्रत्याशी पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह चुनाव भाजपा प्रत्याशी के निजी स्वार्थ के चलते जनता पर थोपा गया चुनाव है। इस चुनाव पर जो लाखों रुपये का खर्च हो रहा है वह जनता के टैक्स का पैसा है। इसलिए जनता को चाहिए कि इस उप चुनाव में भाजपा को सबक सीखाऐ ताकि जनता के टैक्स का पैसा इस तरह बर्वाद न हो। इस मौके पर पूर्व विधायक पूर्व औद्योगिक सलाहकार कांग्रेस पार्टी रंजीत रावत, जिला पंचायत सदस्य सूरज सैलानी, कांग्रेस ब्लॉक के अध्यक्ष विक्रम फरस्वाण, प्रधान संगठन के अध्यक्ष अनूप नेगी, वन पंचायत सरपंच संघ के प्रकाश पंवार आदि मौजूद थे।