उत्तराखंड : भारी बारिश का तांडव, यहां दबे 4 बच्चे, स्‍कूल में घुसा पानी, 50 से अधिक स्टूडेंट्स फंसे

उत्तराखंड : भारी बारिश का तांडव, यहां दबे 4 बच्चे, स्‍कूल में घुसा पानी, 50 से अधिक स्टूडेंट्स फंसे

हल्द्वानी: मौसम विभाग ने भारी बारिश का अलर्ट जारी किया था। मौसम का पूर्वानुमान एकदम सटीक साबित हुआ। गढ़वाल से कुमाऊं मंडल तक लगातार बारिश का सिलसिला जारी है। हल्द्वानी में भारी बारिश के बीच देर रात चौफुला में झोपड़ी गिरने से महिला और उसके चार बच्चे उसके नीचे एक घंटे तक दब रहे। मदद की गुहार लगाने पर भी मदद नहीं पहुंची तो महिला ने खुद ही हिम्मत करके बच्चों को झोपड़ी के मलबे से बाहर निकाला। रातभर गीले कंबल में बैठकर रात बिताई।

दूसरी ओर प्रेमपुर लोश्ज्ञानी स्कूल के 50 छात्र-छात्राओं की जान आफत में आ गई। स्कूल परिसर से लेकर कक्षों तक अचानक पानी भर गया। इससे छात्र-छात्राएं दहशत में आ गए। सूचना मिलने पर प्रशासन की टीम मौके पर पहुंकी, जिसके बाद  सुरक्षा दीवार को तोड़ा गया और प्राथमिक विद्यालय के छात्र-छात्राओं को बाहर निकाला गया।

भारी बारिश

हल्द्वानी में 150 से अधिक घरों में पानी घुस गया। इससे 50 लाख से अधिक के नुकसान की आशंका है। वहीं, आंवला चौंकी गेट के पास 30 परिवारों के 80 लोगों ने भारी बारिश के बीच हाईवे पर रात बिताई।

ऊधमसिंह नगर में मानसून की पहली मूसलाधार बारिश हुई। इस दौरान जिले में 51 मिमी बारिश दर्ज की गई। सबसे अधिक गदरपुर तहसील में दर्ज की गई तो वहीं सबसे कम खटीमा में रही।

मौसम विज्ञान विभाग ने रेड अलर्ट के चलते बृहस्पतिवार को कुमाऊं में चंपावत, बागेश्वर, अल्मोड़ा, नैनीताल और ऊधमसिंह नगर जिलों में पहली से 10वीं तक के शासकीय, अर्द्धशासकीय, निजी स्कूलों और आंगनबाड़ी केंद्रों में अवकाश घोषित किया गया है।