विश्व की समस्याओं का समाधान भारतीय जीवन शैली में निहित – केंद्रीय वन मंत्री भूपेन्द्र यादव

विश्व की समस्याओं का समाधान भारतीय जीवन शैली में निहित – केंद्रीय वन मंत्री भूपेन्द्र यादव

देहरादून। केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेन्द्र यादव ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2024 के अवसर पर देहरादून स्थित राष्ट्रीय वन अकादमी के पवेलियन ग्राउंड में संस्थान से जुड़े लोगों के साथ योगाभ्यास किया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हम सभी को योग दिवस को श्स्वयं के लिए और समाज के लिए योगश् की भावना के साथ मनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि दुनिया की समस्याओं का समाधान भारतीय जीवन शैली में निहित है। सुबह का एक अन्य मुख्य आकर्षण भूपेन्द्र यादव द्वारा ‘एक पेड़ मां के नाम’ अभियान के अंतर्गत किया गया वृक्षारोपण था, जो हमारे प्राकृतिक पर्यावरण के संरक्षण और संवर्धन के लिए सरकार की मजबूत प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

इस अवसर पर वन महानिदेशक एवं विशेष सचिव जितेन्द्र कुमार, अपर महानिदेशक सुशील अवस्थी, अपर महानिदेशक ए मोहंती भारत सरकार, आईजीएनएफए के निदेशक डॉ. जगमोहन शर्मा, आईसीएफआरई की महानिदेशक कंचन देवी और देहरादून के विभिन्न प्रमुख संस्थानों के प्रमुखों जिनमें भारतीय वन सर्वेक्षण, भारतीय वन्यजीव संस्थान, वन अनुसंधान संस्थान, वन शिक्षा निदेशालय, केंद्रीय राज्य वन सेवा अकादमी, आईएफएस परिवीक्षाधीन, एसएफएस अधिकारी प्रशिक्षु, एफआरआई के छात्र और अन्य शामिल थे। 400 से अधिक व्यक्तियों की भागीदारी ने पेशेवर और व्यक्तिगत जीवन में योग को एकीकृत करने और पर्यावरण संरक्षण के प्रति प्रतिबद्धता के प्रति साझा दायित्व को प्रदर्शित किया। प्रधानमंत्री के दूरदर्शी नेतृत्व में देश योग के माध्यम से सार्वभौमिक मानवीय मूल्यों और कल्याण को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है। श्री यादव ने इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वन अकादमी के बहुउद्देशीय हॉल का भी उद्घाटन किया।