गन्ना किसानों के लिए आई राहत भरी खबर, मंत्री सौरभ बहुगुणा ने दिए ये निर्देश..

गन्ना किसानों के लिए आई राहत भरी खबर, मंत्री सौरभ बहुगुणा ने दिए ये निर्देश..

देहरादून : मंत्री गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग विभाग की अध्यक्षता में आहूत समीक्षा बैठक में महत्वपूर्ण निर्देश पारित किये गये। मंत्री गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग, पशु पालन, दुग्ध विकास एवं मत्स्य पालन, प्रोटोकॉल, कौशल विकास एवं सेवायोजन की अध्यक्षता में आज सांय 05ः00 बजे मुख्य सचिव की भूतल सभागार कक्ष, सचिवालय में सचिव गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग, आयुुक्त गन्ना विकास व चीनी उद्योग काशीपुर, संयुक्त आयुक्त गन्ना विकास व चीनी उद्योग, महाप्रबन्धक उत्तराखण्ड शुगर्स, किच्छा/बाजपुर/नादेही/डोईवाला/सितारगंज चीनी मिलों के प्रधान प्रबन्धक/अधिषासी निदेशक, समस्त विभागाध्यक्षों तथा निजी क्षेत्र की चीनी मिलों के अध्यासी एवं सहायक गन्ना आयुक्त देहरादून, हरिद्वार व ऊधमसिंह नगर द्वारा प्रतिभाग किया गया।

समीक्षा बैठक में चर्चा के दौरान मंत्री द्वारा निम्नवत् निर्देश दिये गयेः-

  • निजी क्षेत्र की चीनी मिल इकबालपुर पेराई सत्र 2023-24 के अवशेष गन्ना मूल्य रू0 20.36 करोड़ का भुगतान दिनांक-15 जुलाई, 2024 तक अनिवार्य रूप से अवष्य करना सुनिश्चित करें।
  • निजी क्षेत्र की चीनी मिल इकबालपुर पेराई सत्र 2018-19 के अवशेष गन्ना मूल्य भुगतान रू0 106.17 करोड़ के भुगतान हेतु concreate प्रस्ताव उपलब्ध कराया जाय।
  • चीनी मिलों के आगामी पेराई सत्र 2024-25 का शुभारम्भ 20 नवम्बर, 2024 से किसी भी दशा में प्रारम्भ किया जाय तथा 30 अक्टूबर, 2024 तक चीनी मिलों के समस्त मरम्मत, अनुरक्षण एवं ट्रायल के कार्य अवश्य पूर्ण कर लिये जाय।
  • चीनी मिलों का मरम्मत एवं अनुरक्षण कार्य इस प्रकार किया जाय कि आगामी पेराई सत्र 2024-25 के दौरान तकनीकी बन्दियो का सामना न करना पड़े।
  • चीनी मिलों में कृषकों के रहने, शौचालय, पेयजल एवं पंचर बनाने वाले आदि हेतु पूर्व में की गयी व्यवस्था अनिवार्य रूप से चीनी मिलों द्वारा समीक्षा कर ली जाय।
  • कृषकों की समस्याओं के त्वरित निस्तारण हेतु गोष्ठियॉं आयोजित की जाय।
  • छोटे कृषकों को तीसरे से चौथे पखवाड़े तक पर्चियॉं उपलब्ध कराये जाने हेतु सट्टा नीति में आवश्यक संशोधन कर लिया जाय।