टिहरी झील क्षेत्र परियोजना के तहत मिशन मोड पर किए जाए फर्स्ट फेज के कार्य – डीएम मयूर दीक्षित

टिहरी झील क्षेत्र परियोजना के तहत मिशन मोड पर किए जाए फर्स्ट फेज के कार्य – डीएम मयूर दीक्षित
टिहरी : जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल की अध्यक्षता में गुरुवार को टिहरी झील क्षेत्र परियोजना के संबंध में बैठक आहूत की गई। देर सांय तक चली बैठक में टिहरी झील क्षेत्र परियोजना के सतत समावेशी, अनुकूल जलवायु और पर्यटन विकास को लेकर सम्बन्धित विभागों के साथ विचार-विमर्श किया गया।
जिलाधिकारी ने टिहरी झील क्षेत्र परियोजना के संबंध में उत्तराखंड पर्यटन विकास बोर्ड के अधिकारी को जिला स्तर पर वर्किंग कमेटी गठित करने को कहा, ताकि संबंधित विभागों से समन्वय बनाकर परियोजना के विकास कार्य किए जा सकें। रिंग रोड़ के तहत लोक निर्माण विभाग के अधिकारी को फर्स्ट फेज में टूरिज्म रोड़ कोटी-डोबरा चांटी का 25 जून तक डिमार्केशन कर राजस्व विभाग के साथ समन्वय कर प्रस्ताव बनाकर एसएलओ को उपलब्ध करने के निर्देश दिए गए। एडीएम को प्रस्तावों पर अग्रिम कार्यवाही हेतु टाइम लाइन बनाने को कहा गया। जिला प्रशासन के संबंधित अधिकारियों को एडीबी के अधिकारियों के साथ साइट विजिट करने को कहा गया। जिलाधिकारी ने कहा कि टिहरी झील क्षेत्र परियोजना के तहत फर्स्ट फेज के कार्य 01 जुलाई से मिशन मोड पर किए जाएं।
इससे पूर्व उत्तराखंड पर्यटन विकास बोर्ड के संयुक्त निदेशक योगेंद्र कुमार गंगवार ने बताया कि   अनुमोदित प्रोजेक्ट को लेकर एडीबी की टीम द्वारा 12 जून से 18 जून तक पुनर्वास/राजस्व /टीएचडीसी के साथ संयुक्त स्थलीय निरीक्षण किया जा रहा है। आज शुक्रवार को टीम द्वारा गार्बेज साइट और एसटीपी का विजिट किया जाएगा। उन्होंने निरीक्षण के बाद टीएचडीसी की चयनित की गई भूमि को परियोजना के क्रियान्वयन हेतु टीएचडीसी से सहमति प्रदान किए जाने का अनुरोध किया। इसके अंतर्गत डोबरा चांटी पार्क, गोरन इको ग्लैंपिंग, मलीदेवाल-मेडिटेशन गार्डन, योग और पंचकर्म सेंटर, तिवाड़गांव-बायोडायवर्सिटी पार्क और हॉर्टिकल्चर गार्डन, रोलाकोट रिजर्व्ड फॉर एडिशनल सब प्रोजेक्ट, 5 अतिरिक्त जेटी स्टेशन आदि शामिल हैं।
बैठक में एडीएम के.के. मिश्रा, एडीबी से सेफगार्ड्स ऑफिसर (रिसेटलमेंट) (सोशल सेफगार्ड्स) रायहल्दा डी सुसूलन एवं एसोसिएट एनवायरनमेंट ऑफिसर (एनवायरनमेंट सेफगार्ड्स) ब्रांडो एम एंजेलिस, महाप्रबंधक टीएचडीसी विजय सहगल, एनवायरनमेंट स्पेशलिस्ट एडीबी एस.के. जैन, सोशल एक्सपर्ट यूटीडीबी एस.सी.चंद्र, ईई जल संस्थान प्रशांत भारद्वाज, ईई पुनर्वास डी.एस. नेगी, साहसिक खेल अधिकारी के.एस. नेगी, ईओ नगरपालिका परिषद नई टिहरी मो.कामिल सहित लोनिवि, राजस्व विभाग के अधिकारी एवं अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।