आधार कार्ड कैंप के दूसरे दिन भी लोगों को बैरंग लौटना पड़ा वापस

आधार कार्ड कैंप के दूसरे दिन भी लोगों को बैरंग लौटना पड़ा वापस
 
सतपुली। जिलाधिकारी पौड़ी के निर्देशों के बावजूद तहसील सतपुली और चौबट्टाखाल तहसीलों में आधार कार्ड कैंप आयोजित न होने से दोनों तहसीलों में दूर दराज क्षेत्रों से पहुंचे ग्रामीणों को लगातार दूसरे दिन मंगलवार को भी बैरंग वापस लौटना पड़ा। सतपुली तहसील में ग्रामीणों ने आधार कार्ड आपरेटर के सम्मुख हंगामा काटते हुए उन्हें जमकर खरी खोटी सुनाई। वहीं दूसरी ओर चौबट्टाखाल में आधार कार्ड आपरेटर के लगातार दूसरे दिन भी नदारद रहने से ग्रामीणों ने तीखी नाराजगी जताई । हालांकि चौबट्टाखाल हेतु निर्धारित आधार कार्ड ऑपरेटर अमित नेगी ने उन्हें आधार कार्ड कैंप हेतु विभागीय स्तर से कोई सूचना न मिलने की बात कही।
उन्होंने कहा कि उन्हें विभागीय अधिकारियों द्वारा कोई सूचना नहीं दी गई। उन्हें मौके पर पहुंचे संबंधित ग्रामीणों द्वारा फोन कर सोमवार से आधार कार्ड कैंप होने की जानकारी मिली जबकि सतपुली में पहले दिन नदारद रहने के बाद दूसरे दिन ऑपरेटर हेमेंद्र जरूर पहुंचे, लेकिन उन्होंने दुगड्डा के पास बाइक दुर्घटना में लैपटॉप क्षतिग्रस्त होने की बात कहते हुए आधार कार्ड कैंप 1 सप्ताह बाद आयोजित करने की बात कही। आधार कार्ड ऑपरेटर हेमेंद्र ने मौके पर पहुंचे दर्जनों लोगों के फोन नंबर लेते हुए कहा कि लैपटॉप ठीक होने पर वह एक सप्ताह में सभी ग्रामीणों से संपर्क कर आधार कैंप की जानकारी देंगे। 
सतपुली और चौबट्टाखाल में दोनों दिन आधार कार्ड कैंप आयोजित न होने पर पूर्व प्रमुख पोखड़ा सुरेंद्र सिंह रावत, पूर्व प्रमुख एकेश्वर जसपाल रावत, पूर्व जिला पंचायत सदस्य माया गुसांई,  व्यापार मंडल अध्यक्ष सतपुली जयदीप नेगी, पूर्व प्रधान सतपुली मल्ली हरि सिंह आदि ने गहरा रोष जताते हुए जिलाधिकारी से मामले में संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।