डीएम सोनिका ने नगर निगम देहरादून का किया औचक निरिक्षण, विभिन्न पटल के कार्यों का अवलोकन कर कार्मिकों की उपस्थिति जांची, दिए यह निर्देश

डीएम सोनिका ने नगर निगम देहरादून का किया औचक निरिक्षण, विभिन्न पटल के कार्यों का अवलोकन कर कार्मिकों की उपस्थिति जांची, दिए यह निर्देश
देहरादून : जिलाधिकारी/प्रशासक नगर निगम देहरादून सोनिका ने आज नगर निगम परिसर का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने विभिन्न पटल के कार्यों का  अवलोकन किया तथा कार्मिकों की उपस्थिति जांची। निरीक्षण उपरान्त अधिकारियों के साथ बैठक कर जिलाधिकारी ने नगर निगम के लेण्ड बैंक की जानकारी लेते हुए नगर निगम की भूमि पर तारबाड़ करने के निर्देश दिए। नगर निगम की खाली भूमि पर वृक्षारोपण करने तथा पार्क विकसित करने को निर्देशित किया।
जिलाधिकारी ने निर्देश दिए की प्रत्येक पटल/ खिड़की पर जो कार्य हो रहा है, उसकी जानकारी चस्पा करें। फरियादियों की सुविधा के लिए वेबसाइट की जानकारी चस्पा करें , ताकि जनमानस अपनी कार्य  प्रगति को ऑनलाइन चैक कर सकें। जिलाधिकारी ने टाउनहॉल की मरम्मत,  सौंदर्यीकरण कराने हेतु आंगड़न करने के निर्देश दिए। उन्होंने नगर निगम परिसर में पार्किंग को व्यवस्थित करते हुए बड़े वाहन, छोटे वाहन, फ़ोर व्हीलर, टू व्हीलर का स्थान अलग-अलग चिन्हित करने तथा परिसर की साफ सफाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने वाहनों की सूची तलब करने के निर्देश दिए। स्ट्रीट लाइट की क्षेत्रवार रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए साथ ही ऐसा सिस्टम विकसित करें की लाइट खराब होने पर सूचना मिल सके।
निरीक्षण के दौरान 51 कार्मिक पटल पर नहीं मिले, जिनकी अनुपस्थिति लगाने के निर्देश अपर नगर आयुक्त नगर निगम को दिए। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने नगर निगम परिसर में आए लोगों से नगर निगम आने का कारण जाना तथा उनकी समस्याएं पूछते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को समस्याओं का निराकरण करने के निर्देश दिए। जन्म, मृत्यु प्रमाण पत्र निर्गत होने में देरी होने की शिकायतों पर कार्मिकों ने  वेबसाइट की दिक्कत बताई। जिलाधिकारी ने वेबसाईट में सुधार लाने के निर्देश। नगर निगम के अधिकारियों को प्रतिदिन कूड़ा उठान की वार्डवार मॉनिटिरिंग करने तथा जटायू वाहन को रोस्टरवार क्षेत्र आवंटित कर सफाई कार्यों के निर्देश दिए। साथ ही जिन क्षेत्रों में सार्वजनिक स्थानों पर कूड़ा फैंका जा रहा है वहां पर कार्मिकों से सर्वे कराते हुए कारण का पता लगाकर व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए।
उन्होंने नगर निगम अंतर्गत वर्तमान में गतिमान, तथा स्वीकृत कार्यों की पत्रावली प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। सोर्स सग्रीगेशन, हेतु किए गए कार्यों की सूची तलब की सम्बन्धित के साथ हुए एमओयू एवं अनुबन्ध की पत्रावली तलब की। जिलाधिकारी ने नगर आयुक्त नगर निगम को कार्य आवंटन पत्रावली प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। उन्होने घर घर कूड़ा उठान की वार्डवार रिर्पाेट प्रस्तुत करने तथा नगर निगम की भूमि पर वृक्षारोपण  का प्लान प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।
अन्य निर्देश-नगर निगम की खाली भूमि पर वृक्षारोपण करते हुए ताड़बाड़ करने, नगर निगम क्षेत्रान्तर्गत 1 लाख वृक्ष लगाने का लक्ष्य रखने, तथा वृक्षों की सुरक्षा हेतु ट्री गार्ड लगाने, नगर निगम क्षेत्रान्तर्गत स्वीकृत एवं प्रस्तावित पार्क की सूची प्रस्तुत करने, लैण्ड बैंक का विवरण प्रस्तुत करने, नगर निगम क्षेत्रान्तर्गत वैन्डिगं जोन हेतु स्थल चिन्हित करने, नगर निगम की भूमि पर कार्मिकों के आवास हेतु आंगणन करने, नगर गिनम की भूमि को अतिक्रमण मुक्त रखने हेतु की तारबाड़ तथा जिन क्षेत्रों में तारबाड़ की जानी है का विवरण उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्य नगर आयुक्त नगर निगम गौरव कुमार, अपर नगर आयुक्त बीर सिंह बुदियाल, उप नगर आयुक्त गोपालराम बिनवाल, मुख्य नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अविनाश खन्ना, सहायक नगर आयुक्त पी.सी जोशी सहित अन्य कार्मिक उपस्थित रहे।