पौडी पुलिस ने 11 लाख की धोखाधड़ी करने वाले अन्तर्राज्यीय गैंग के सदस्य हारून को मथुरा से किया गिरफ्तार, आरोपी इस तरह करता था साइबर ठगी, विवेचक SI मुकेश गैरोला ने जोड़ी कड़ी से कड़ी

पौडी पुलिस ने 11 लाख की धोखाधड़ी करने वाले अन्तर्राज्यीय गैंग के सदस्य हारून को मथुरा से किया गिरफ्तार, आरोपी इस तरह करता था साइबर ठगी, विवेचक SI मुकेश गैरोला ने जोड़ी कड़ी से कड़ी
पौडी : वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पौड़ी लोकेश्वर सिंह के निर्देशन में पौड़ी पुलिस लगातार तोड़ रही साइबर अपराधियों की कमर। पौडी पुलिस ने 11 लाख की धोखाधड़ी करने वाले अन्तर्राज्यीय गैंग के सदस्य हारून को मथुरा से किया गिरफ्तार। गैंग के सदस्य कम ब्याज पर लोन दिलवाने और लोन की रकम भी दोगुनी करने का लालच देकर करते है लाखों की साइबर ठगी।
कोतवाली पौड़ी पर 10 अप्रैल 2024 को वादिनी सुनीता निवासी ग्राम कुल्लू भंवारी, पो. चौपड़ियूँ, जनपद पौड़ी गढ़वाल ने प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करायी कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने फोन द्वारा  वादिनी को कम ब्याज दर पर लोन देने और लोन की धनराशि को दुगुना करने के नाम पर 11 लाख रूपये की धोखाधड़ी की है। प्रथम सूचना रिपोर्ट के आधार पर कोतवाली पौड़ी पर मु0अ0सं0 24/2024, धारा-420 भादवि बनाम अज्ञात पंजीकृत किया गया। 
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पौड़ी लोकेश्वर सिंह द्वारा आम जनमानस के साथ हो रही इन नवीन प्रकार की धोखाधड़ी की घटनाओं को गम्भीरता से लेते हुये अभियुक्त की शीघ्र गिरफ्तारी कर घटना का अनावरण करने हेतु प्रभारी थानाध्यक्ष पौड़ी को टीम गठित करने हेतु निर्देशित किया गया।
निर्गत निर्देशों को क्रम में गठित पुलिस टीम द्वारा ठोस साक्ष्य संकलन व कुशल सुरागरसी पतारसी की गई तो प्रकाश में आया की लोन दिलाने वाली ये गैंग बिहार और राजस्थान से संचालित हो रही है। पुलिस टीम द्वारा अलग अलग प्रदेशों में दबिश देकर अथक प्रयासों से उक्त अभियोग में संलिप्त अभियुक्त हरून पुत्र सपत को आज को मथुरा से गिरफ्तार कर आज न्यायालय के समक्ष पेश कर जेल भेज दिया गया है। अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु पुलिस लगातार प्रयासरत है।
साइबर ठगी के मामलें में विवेचक उपनिरीक्षक मुकेश गैरोला ने कड़ी से कड़ी जोड़ते हुए आरोपी को थाना बरसाना जनपद मथुरा उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया गया हैं । उपनिरीक्षक मुकेश गैरोला ने तकनीकी का प्रयोग कर ट्रांजक्शन से लेकर आईपी एड्रेस तक सभी का गहन विश्लेष्ण किया । सभी पहलुओं पर गहन विश्लेष्ण कर कड़ी से कड़ी जोड़ते हुए आरोपी को चिन्हित कर गिरफ्तार किया ।

अपराध करने का तरीका

अभियुक्त ने पूछताछ में बताया कि हम लोग उत्तराखण्ड, हिमाचल प्रदेश के नम्बरों पर व्हाट्सएप व काल के माध्यम से सस्ती ब्याज दरों पर लोगों को लोन दिलाने का लालच देते हैं, साथ ही लोन की धनराशि को बिना प्रोसेसिंग शुल्क के दुगुना लोन के लिये भी लालच देते हैं। जिसमें लोग लालच में आ जाते हैं, और शुरुआत में प्रोसेसिंग फीस 2,000 से शुरुआत करते करते हम लोगों को तरह तरह का लालच देकर लोगों का माइण्ड बातों ही बातों में वाश करते हुये उनसे लाखों रुपये गूगल पे, फोन पे के माध्यम से धनराशि अपने खातों में डलवाते हैं। जब हमें विश्वास होता है कि इसने पुलिस में हमारी रिपोर्ट दर्ज करवा दी है तो हम मोबाईल नम्बरों को बन्द कर उन सिमों को तोड़ देते हैं।

अभियुक्त का नाम पता

  •  हारून (उम्र-23 वर्ष) पुत्र सपत, निवासी हथिया तहसील छाता, थाना बरसाना, जनपद मथुरा उ.प्र

पंजीकृत अभियोग

  • मु0अ0सं0- 21/2024, धारा-420 भादवि

पुलिस टीम

  •  उपनिरीक्षक मुकेश गैरोला
  • मुख्य आरक्षी धीरज सिंह
  • आरक्षी अमरजीत सिंह- साईबर सैल कोटद्वार