देहरादून: उत्तराखंड में हाईस्कूल की बोर्ड परीक्षा दे चुके छात्र-छात्राएं रिजल्ट आने से पहले भी अगली कक्षा यानि 11वीं में एडमिशन ले सकते हैं. इस शैक्षिक सत्र में पढ़ाई को सुचारु रखने के लिए सरकार ने एडमिशन की नई व्यवस्था लागू कर दी है. छात्रों को कक्षा 11वीं में औपबंधिक रूप से प्रवेश दिया गया है. जिससे छात्रों का समय खराब नहीं होगा और उनकी पढ़ाई चलती रहेगी.

बता दें कि, उत्तराखंड बोर्ड की कक्षा 10 और 12 की परीक्षाएं हो चुकी हैं, लेकिन बोर्ड परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन अभी चल रहा है, जो नौ मई को पूरा होगा. इसके बाद परीक्षा परिणाम तैयार किया जाएगा. इस कार्य में अभी काफी समय लग सकता है. ऐसे में छात्रों का समय खराब न हो, इसे देखते हुए यह फैसला लिया गया है. शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने इस व्यवस्था को लागू करने के निर्देश दिए थे. जिसको लेकर माध्यमिक शिक्षा निदेशक आरके कुंवर ने इसके आदेश जारी कर दिए है.

गौरतलब है कि, इस साल कोरोना और विधानसभा चुनाव के कारण बोर्ड परीक्षाएं कुछ विलंब से हुई हैं. बोर्ड परीक्षाओ का रिजल्ट भी 10 जून तक आना प्रस्तावित है. लेकिन हाईस्कूल बोर्ड परीक्षा में शामिल हुए छात्रों को प्रोविजनल एडमिशन दिया जाएगा. यदि वो बोर्ड परीक्षा में पास हो जाते हैं उनका कक्षा ग्यारह में एडमिशन मान्य रहेगा. वहीं फेल होने वाले छात्रों का एडमिशन निरस्त कर दिया जाएगा.

वहीं जो छात्र हाईस्कूल के बाद स्कूल बदलना चाहते हैं, उन्हें भी राहत दी गई है. मूल स्कूल के प्रधानाचार्य से बोर्ड परीक्षा में शामिल होने का प्रमाणपत्र लेकर वह दूसरे स्कूल में प्रोविजनल एडमिशन ले सकते हैं. रिजल्ट जारी होने के बाद छात्र अपना अंकपत्र और मूल स्कूल से स्थानांतरण पत्र लेकर नए स्कूल में जमा कराकर एडमिशन नियमित कर सकेगा.

By Skgnews