Recruitment Exam Fraud (SSC Delhi Police Exam): सरकारी नौकरी के लिए हुई भर्ती परीक्षा में एक मुन्ना भाई पकड़ा गया, जो दूसरे अभ्यर्थी की जगह एग्जाम देने आया था। लेकिन परीक्षा केंद्र पर उसका यह भेद खुल गया। पूछताछ में उसने बताया कि, वह 50 हजार रुपए के एवज में दूसरे अभ्यर्थी की जगह एग्जाम देने आया था।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, थाना डोईवाला पर शुक्रवार को पुष्पेंद्र कुमार पुत्र राम अवतार, निवासी कुआंवाला ने थाना डोईवाला जनपद देहरादून में एक लिखित प्रार्थना पत्र दिया कि, ITZ इंस्टिट्यूट कुँआवाला मे 14 अक्टूबर को SSC दिल्ली पुलिस की परीक्षा आयोजित की गयी। उक्त परीक्षा की द्वितीय पाली में सूरज कुमार पुत्र सुभाष चौधरी, निवासी मोहम्मदपुर मोर खुर्द, मेरठ, उत्तर प्रदेश की परीक्षा थी।

प्रवेश द्वार पर चेकिंग के दौरान जब आधार कार्ड से अटेंडेंस शीट पर लगी फोटो से मिलान किया गया तो फोटो का मिलान नहीं हुआ, जिस पर चैंकिग अधिकारी ने इस सम्बन्ध मे उपरोक्त व्यक्ति से पूछताछ की तो उसने अपना नाम अभय कुमार (उम्र 28 वर्ष) पुत्र राजनंदन सिंह, निवासी राजगीर जिला नालंदा बिहार बताया। पकड़े गए व्यक्ति ने यह भी बताया कि, वह सूरज कुमार के स्थान पर परीक्षा देने आया है और सूरज के स्थान पर परीक्षा देने के लिए 50,000 रुपये उसकी लेन-देन की बात हुई है।

उक्त प्रकरण पर कोतवाली डोईवाला पर तुरन्त अपराध के अनुरूप मुकदमा पंजीकृत कर विवेचना चौकी प्रभारी हर्रावाला/उप- नि0 नवीन डंगवाल के सुपुर्द की गई और विवेचक द्वारा उक्त अभियुक्त को नियमानुसार गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त को न्यायालय के समक्ष समक्ष पेश किया जा रहा है और अभियुक्तगणों के अपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है।

By Skgnews