देहरादून : दूसरे राज्यों में फंसे श्रद्धालुओं, पर्यटकों, श्रमिकों, छात्रों और अन्य लोगों की घर वापसी को लेकर जारी गाइडलाइन राज्य के भीतर दूसरे जिलों में फंसे लोगों के लिए भी खुशखबरी लेकर आयी है। सरकार पर लगातार यह दबाव बना हुआ था कि राज्य के भीतर एक जिले से दूसरे जिले में जाने की सहूलियत दी जाए, लेकिन सरकार इस पर चुप्पी साधे हुए थी। हालांकि अब मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जिलों में फंसे लोगों को उनके होम डिस्ट्रिक्ट में पहुंचाया जाए।

करना होगा आवेदन
नई व्यवस्था के तहत आवेदन करने वालों की डाक्टरी जांच करवाई जाएगी। अगर कोरोना का लक्षण नहीं मिलता है तो उसे जाने की अनुमति दी जा सकेगी। लेकिन रेड कैटगिरी वाले जिले से ग्रीन कैटेगिरी वाले जनपद में जाने के लिए केंद्रीय गाइडलाइन के तहत ही अनुमति मिलेगी।

नई व्यवस्था बनेगी
चीफ सेक्रेटरी उत्पल कुमार सिंह का कहना है कि एक जिले से दूसरे जिले में सामान्य आवागमन को लेकर अब व्यवस्था बनाई जा रही है। ग्रीन कैटेगिरी वाले जिलों में आवागमन को लेकर कोई समस्या नहीं रहेगी। हेल्थ चेकअप करवाया जाएगा। रेड कैटेगिरी से ग्रीन कैटेगिरी जिले में जाने के लिए हेल्थ चेकअप के साथ होम क्वांरटीन की व्यवस्था भी रखी जा सकती है। अगर कोई व्यक्ति पहले से क्वारंटीन है तो उसे जाने दिया जाएगा, लेकिन अंतिम निर्णय जिलाधिकारी के स्तर से होगा।

The post जिलों में फंसे लोगों को भी घर जाने का ग्रीन सिग्नल, ये है प्लान appeared first on पहाड़ समाचार.

By Skgnews