रुड़की, हरिद्वार: एक पुलिसकर्मी और होमगार्ड की सूझबूझ, खुदकुशी करने जा रहे एक युवक के परिवार के लिए फरिश्ता साबित हुए। दोनों जवानों ने फंदे से झूल रहे युवक को नीचे उतारकर समय रहते उसकी जान बचाई। उन्होंने हाथ- पैरों की मदद से दरवाजे को तोड़ने का प्रयास किया। इसके बाद घर में मौजूद हथौड़े से दरवाजा तोड़कर युवक के गले में बंधी चुन्नी को काटकर सकुशल युवक को फांसी के फंदे से उतारा और तुरंत सरकारी अस्पताल भिजवाया गया। समय से इलाज मिलने व तत्काल कार्यवाही करने से 18 वर्षीय युवक की जान बचायी जा सकी। उक्त युवक अस्पताल से छुट्टी होकर अपने घर आ गया है।

 

मामले के अनुसार, बीती रात्रि को चेतक 38 पर नियुक्त का. 945CP विकास त्यागी व होमगार्ड सुनील रात्रि में समय लगभग 2:00 बजे के करीब गश्त करते हुए बंदा रोड के पास पहुंचे तो अचानक एक घर से जोर-जोर से पुरूष व महिलाओं के रोने- चिल्लाने की आवाज आ रही थी। तत्काल किसी अनहोनी एवम अपराध घटित होने की आशंका पर घर के अंदर जाकर देखा तो पूरे परिवार वाले घर में घबराहट में इधर उधर दौड़ते हुए चिल्ला रहे थे कि हमारे लड़के ने कमरा बंद करके फांसी लगा ली है। कमरे का लॉक अंदर से बंद है। पूरा परिवार यह घटना देखकर सदमे में थे व सभी लगातार बहुत जोर जोर से रो रहे थे मौके पर पता चला कि युवक द्वारा प्रथम तल पर स्थित अपने कमरे को अंदर से लॉक कर फांसी लगा ली है, तुरंत कर्मचारी गणों द्वारा प्रथम तल पर जाकर खिड़की से देखा तो युवक फांसी के फंदे पर चुन्नी के सहारे लटका हुआ था और उसके हाथ पैर हिल रहे थे इस पर बिना एक क्षण गवाए पुलिस कर्मियों द्वारा अदम्य साहस व सूझबूझ का परिचय देते हुए भावनाओ को काबू रखते हुए हाथ- पैरों की मदद से दरवाजे को तोड़ने का प्रयास किया गया पर संभव न होने पर घर में मौजूद हथौड़े आदि को ढूढने का प्रयास किया घर में रखा हथौड़ा मिला।

उक्त हथौड़े की मदद से दरवाजा तोड़कर युवक के गले में बंधी चुन्नी को काटकर सकुशल युवक को फांसी के फंदे से उतारा गया व तुरंत सरकारी अस्पताल भिजवाया गया समय से इलाज मिलने व तत्काल कार्यवाही करने से अनस पुत्र दिलशाद निवासी बंदा रोड कोतवाली रुड़की हरिद्वार उम्र लगभग 18 वर्ष की जान बचायी जा सकी उक्त युवक अस्पताल से छुट्टी होकर अपने घर आ गया है व स्वस्थ है यह भी अवगत कराना है कि उक्त युवक घर का एकमात्र पुत्र है एवं घर में हुई बोलचाल के कारण उक्त आत्महत्या कृत्य करने को अग्रसर हुआ था। युवक के परिजनों द्वारा उत्तराखंड पुलिस की भरपूर प्रशंशा की है और क्षेत्र के आमजन द्वारा भी पुलिस के तत्काल की गयी कार्यवाही की मुक्त कंठ से प्रशंसा की है।

The post उत्तराखंड: फरिश्ता बनकर पहुंचे सिपाही और होमगार्ड, सुसाइड करने जा रहे युवक की ऐसे बचाई जान.. वीडियो appeared first on Bharatjan Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar.

By Skgnews