हरिद्वार: रुड़की में देहरादून- दिल्ली हाईवे पर पुलिस और आर्मी के जवानों बीच जमकर बहस और हाथापाई हुई। इस नोकझोंक के दौरान मौके पर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई और सैन्य कर्मियों के पक्ष में नारेबाजी करने लगे। इस दौरान पुलिस के जवान बेबस दिखाई दिए। फिलहाल पुलिस अधिकारी अब पूरे मामले की जांच की बात कह रहे हैं।

विवाद रुड़की के गंगनहर कोतवाली क्षेत्र में देहरादून-दिल्ली हाईवे पर पुलिस और सेना के वाहन की टक्कर से शुरू हुआ। सब इंस्पेक्टर अनिल सिंह बिष्ट का आरोप है कि वो कोर्ट से आ रहे थे, तभी पीछे से आ रहे आर्मी के ट्रक ने उनकी कार को टक्कर मारी दी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि उनका कार का टायर भी फट गया।

टक्कर लगते ही दरोगा और सिपाही वाहन से उतरे और सेना के वाहन को चारों ओर से घेर लिया। इस दौरान आर्मी के जवानों और पुलिस के बीच जमकर नोकझौंक हुई। सब इंस्पेक्टर अनिल सिंह बिष्ट का कहना है कि, टक्कर के बाद जब उन्होंने आर्मी ट्रक में सवार सेना के जवानों को वाहन सहित थाने चलने के लिए कहा तो वो बिगड़ गए और उन्होंने उनकी साथ बदतमीजी करनी शुरू कर दी। इस दौरान वहां लोगों की भीड़ एकत्र हो गई और उन्होंने सेना के समर्थन में नारे लगाने शुरू कर दिए। इसी बीच मौका पाकर सेना के जवान ट्रक लेकर वहां से निकल गए। वहीं पुलिसकर्मियों ने मामले की सूचना उच्चाधिकारियों को दे दी है। उनके खिलाफ मुकदमा लिखवाया जाएगा।

By Skgnews