देहरादून: मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण (Mussoorie Dehradun Development Authority – MDDA) द्वारा अवैध निर्माण पर ताबड़तोड़ कार्यवाही जारी है। बुधवार को प्राधिकरण में 50 बीघा अवैध प्लाटिंग को ध्वस्त किया। वहीं बिना स्वीकृति के बनी दुकानों को सील कर दिया। प्राधिकरण 5 निर्माणो पर कार्यवाही की।

1. गुलज़ार अहमद पुत्र साहब द्वारा मल्हान ग्रांट, मानक सिद्ध के निकट, गणेशपुर बुद्धि ग्राम रतनपुर में बिना स्वीकृति के लगभग 02 बीघा भूमि पर प्लाटिंग की जा रही थी, जिसे प्राधिकरण सचिव मोहन सिंह बर्निया के आदेशों के क्रम में सहा अभियंता शैलेंद्र सिंह रावत द्वारा पुलिस फ़ोर्स की उपस्थिति में प्राधिकरण टीम के साथ ध्वस्त कर दिया गया ।

2. संदीप भट्ट द्वारा Karbari Grant, Behind Ganeshpur Military Academy School, Shimla Bypass Road Dehradun में बिना स्वीकृति के लगभग 25 बीघा भूमि पर प्लाटिंग की जा रही थी, जिसे प्राधिकरण सचिव मोहन सिंह बर्निया के आदेशों के क्रम में सहा अभियंता शैलेंद्र सिंह रावत द्वारा पुलिस फ़ोर्स की उपस्थिति में प्राधिकरण टीम के साथ ध्वस्त कर दिया गया।

3. बक्शी पंवार, संजीव चौहान आदि द्वारा गढ़ी माई चक रोड श्यामपुर ऋषिकेष बिना स्वीकृति के लगभग 8 बीघा भूमि पर प्लाटिंग की जा रही थी, जिसे प्राधिकरण सचिव मोहन सिंह बर्निया के आदेशों के क्रम में सहा अभियंता प्रेम पाल सिंह द्वारा तहसीलदार व पुलिस फ़ोर्स की उपस्थिति में प्राधिकरण टीम के साथ ध्वस्त कर दिया गया।

4. शादाब हुसैन, मोथरोवाला रोड, सुविधा डिपार्टमेंटल स्टोर, देहरादून द्वारा बिना स्वीकृति के कमर्शियल निर्माण (16 x 25 feet के क्षेत्रफल में दुकानों का निर्माण) किया जा रहा था, सचिव बर्निया के आदेशों के पालन में सहा अभियंता दिग्विजय नाथ तिवारी द्वारा पुलिस फ़ोर्स की उपस्थिति में प्राधिकरण टीम के साथ सील कर दिया गया।

5. शुक्ला आदि द्वारा डूंगा भाउवाला देहरादून में बिना स्वीकृति के लगभग 15 बीघा भूमि पर प्लाटिंग की जा रही थी जिसे प्राधिकरण सचिव मोहन सिंह बर्निया के आदेशों के क्रम में सहा अभियंता प्रमोद मेहरा द्वारा प्राधिकरण टीम के साथ ध्वस्त कर दिया गया।

By Skgnews