देहरादून: पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने UKSSSC पेपर लीक मामले में एक बार फिर अपने बयान पर अडिग रहते हुए कहा कि, उनके द्वारा पूर्व में जो आयोग को बंद करने की मांग की गई थी, वह उनका पिछला बयान था। लेकिन वर्तमान में जिस प्रकार से इस पूरे परीक्षा में धांधली हुई है और एसटीएफ ने जो अभी तक की कार्रवाई की है, उससे वह संतुष्ट है। साथ ही कहा कि, अभी भी कई और आरोपियों का गिरफ्तार होना बाकी है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि, एसटीएफ को अब उन कोचिंग सेंटर पर भी नजर रखनी चाहिए, जिनके अधिकाधिक संख्या में छात्र निकल रहे हैं। कहीं ऐसा ना हो कि यह कोचिंग सेंटर भी इस धांधली प्रक्रिया का एक हिस्सा बन रहे हो।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि, अभी राज्य के भीतर एसटीएफ बेहतर काम कर रही है और आरोपियों को धर पकड़ने का उन का सिलसिला जारी है लेकिन अगर जांच का दायरा बड़ा होता है और अन्य राज्यों में भी इसके लिंक पाए जाते हैं तो फिर सरकार को इस पूरे मामले की सीबीआई जांच करानी चाहिए, ताकि सच्चाई सबके सामने उजागर हो सके।

By Skgnews