पौड़ी: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तराखंड दौरे पर हैं. इस दौरान वह करीब पांच साल बाद पौड़ी के यमकेश्वर ब्लॉक स्थित अपने पैतृक गांव पंचूर पहुंचे. बीते सवा पांच साल से जो शख्स देश-दुनिया में छाया रहा, लेकिन बुजुर्ग मां की आंखें पल-पल बेटे की राह निहारती रही. एक लंबे इंतजार के बाद ही सही मंगलवार को आखिरकार वो भावुक क्षण आ गया. भावुक योगी एक पल मां को निहारते रहे.

योगी ने वर्षों बाद जब मां से मिलकर पूछा.. मुझे पहचाना? तो कुछ पल रुककर 84 वर्षीय मां सावित्री देवी ने कहा हां मैंने पहचान लिया. साथ ही जब बुजुर्गों को भी योगी ने यह पूछा कि क्या वह उन्हें पहचान रहे हैं. इस पर ग्रामीणों का कहना था कि, उन्हें कौन नहीं जानता है, वह तो रोजाना उन्हें टीवी पर देखते हैं. जिसको सुनकर योगी आदित्यनाथ मुस्कुराए बिना नहीं रह सके.

आज सुबह योगी आदित्यनाथ ने अपने स्वजन के साथ गांव का भ्रमण किया. गांव में भ्रमण के दौरान कई बच्चे उनके साथ फोटो खिंचवाने की जिद करते रहे. योगी ने किसी को निराश नहीं किया और सहर्ष उनसे मुलाकात करते हुए फोटो भी खिंचवाई. गांव की गलियों में घूमते हुए योगी आदित्यनाथ अपने बचपन के दिनों में खो गए. भ्रमण के बाद योगी आदित्यनाथ अपने छोटे भाई महेंद्र सिंह बिष्ट के बेटे अनंत के चूड़ा कर्म संस्कार में शामिल हुए. योगी आदित्यनाथ संन्यास के बाद पहली बार घर के किसी कार्यक्रम में शामिल हुए हैं.

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ लगातार दूसरी रात आज भी अपने पैतृक गांव पंचूर में रात्रि विश्राम करेंगे. गुरुवार सुबह वह हरिद्वार में आयोजित कार्यक्रम में भाग लेंगे. गुरूवार सुबह 10 बजे वह हरिद्वार के लिये निकलेंगे. हरिद्वार में यूपी पर्यटन विभाग के गेस्टहाउस का लोकापर्ण किया जाना है.

By Skgnews