देहरादून: उत्तराखंड पुलिस ने स्विगी व जोमैटो डिलीवरी बॉय की आड़ में स्मैक तस्करी करने वाले गिरोह का खुलासा किया है। इन्होंने स्मैक बेचकर कार, कई बाइक, देहरादून में 25 लाख का प्लॉट आदि खरीदा है। इनसे लाखों की नगदी भी बरामद हुई है। इनमे से एक जिम ट्रेनर द्वारा आईफोन चुराने से यह खुलासा हुआ है। पुलिस ने तीनों शातिर अभियुक्तो को गिरफ्तार कर लिया हुआ।

युवती ने जिस से आईफोन चोरी होने की दी लिखित तहरीर

पुलिस के अनुसार, 28 अगस्त को वादिनी नेहा सिंघल पुत्री विजेंद्र कुमार सिंघल (निवासी टर्नर रोड थाना क्लेमनटाउन जनपद देहरादून) ने थाना क्लेमनटाउन पर लिखित तहरीर दी कि, टर्नर रोड स्थित एक जिम में से उसका आईफोन 12 प्रो मैक्स (iphone 12 pro max) किसी अज्ञात व्यक्ति ने चोरी कर लिया है, जिसकी कीमत करीब डेढ़ लाख रुपए है। इस लिखित तहरीर के आधार पर थाना क्लेमनटाउन में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया।

CCTV से मिला मोबाइल चुराने वाले की बाइक का नंबर

अभियोग के अनावरण के लिए गठित पुलिस टीम ने जिम में लगे CCTV कैमरो को चैक किया। इसमें देखा कि, एक व्यक्ति मुस्लिम परिधान में मोबाइल चोरी कर रहा है। जिसकी तलाश के लिए पुलिस ने जिम के आसपास आने जाने वाले मार्गो पर लगे लगभग 40 से 45 CCTV कैमरो को चैक किया। इनमे यह व्यक्ति टाइटन फैक्ट्री से आगे एक मोटर साइकिल में हेलमेट पहनकर जाता हुआ दिखाई दिया लेकिन, जिम के आसपास की फुटेज चैक करने पर वह व्यक्ति बिना हेलमेट के जिम से बाहर जाता हुआ दिखाई दिया था। जिस पर पुलिस टीम ने बैक रुट के कैमरे चैक किये तो उक्त व्यक्ति को टाइटन फैक्ट्री के पास एक व्यक्ति हेलमेट देते हुए CCTV फुटेज में दिखाई दिया और जिस मोटरसाइकिल का उपयोग अभियुक्त ने किया था उसका नंबर CCTV कैमरे में ट्रेस हुआ।

अभियुक्तों के आज सहारनपुर से देहरादून आने की मिली सूचना

इस मोटर साइकिल नम्बर के सम्बन्ध में जानकारी करने पर पता चला कि, यह सौरभ कुमार पुत्र जसबीर सिंह (निवासी टीचर कॉलोनी थाना देवबंद जनपद सहारनपुर उत्तर प्रदेश) के नाम पर रजिस्टर है। जिस पर पुलिस टीम ने गोपनीय रुप से सौरभ कुमार के सम्बन्ध में जानकारी एकत्रित करते हुये मुखबीर तंत्र को सक्रिय किया। आज मंगलवार को मुखबीर ने पुलिस को सूचना दी कि, टर्नर रोड स्थित जिम में चोरी के मामले में जिस अभियुक्त सौरभ कुमार की आप तलाश कर रहे हैं, वह ऑल्टो 800 कार में सहारनपुर से देहरादून आने वाला है।

संदिग्ध अल्टो कार की तलाशी और पूछताछ से हुआ बड़ा खुलासा 

इस सूचना पर पुलिस टीम ने संदिग्ध अल्टो कार की तलाश में आशारोड़ी चैक पोस्ट व RTO चैक पोस्ट के मध्य चैकिंग शुरु की। चेकिंग के दौरान पुलिस टीम ने सहारनपुर की ओर से आ रही एक ओल्टो कार को रोका तो उसमें तीन व्यक्ति सवार थे, जिनसे पूछताछ में उन्होंने अपने नाम सौरभ कुमार पुत्र जसवीर सिंह, नीरज कुमार राणा पुत्र राजेश कुमार राणा और विशाल कुमार पुत्र राजेश कुमार बताया। इनकी तलाशी लेने पर उनके पास से टर्नर रोड स्थित जिम से चोरी किया गया मोबाइल आईफोन 12 प्रो मैक्स, 70 ग्राम स्मैक और तीन लाख 50 हजार रुपए नगद बरामद हुए। जिसके सम्बन्ध में पूछताछ करने पर उन्होंने बताया कि, यह धनराशी को स्मैक बेचकर प्राप्त किया। बरामद स्मैक के संबंध में थाना क्लेमनटाउन पर NDPS ACT के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया है। अभियुक्तों को न्यायालय के समक्ष पेश किया जायेगा।

दो अभियुक्त सगे भाई, तीसरा पड़ोसी

पूछताछ में अभियुक्त नीरज ने बताया कि, विशाल मेरा बड़ा भाई है और सौरभ देवबंद सहारनपुर में हमारे पास के ही मौहल्ले का रहने वाला है, जिससे काफी लम्बे समय से हमारी जान पहचान है। नीरज वर्तमान में चन्द्रबनी चौक स्थित एक जिम में जिम ट्रेनर का काम करता है और सौरभ व विशाल स्विगी व जोमैटो में डिलीवरी बॉय का काम करते हैं। नीरज और विशाल पिछले तीन – चार वर्षो से देहरादून में रह रहे है। पहले भी थाना नेहरु कॉलोनी से चोरी के मामले में जेल जा चुके हैं।

कॉलेज के छात्र–छात्रएं नशे के आदी बनाने की बनाई योजना

नीरज ने बताया कि, जेल में हमारी मुलाकात कुछ ड्रग्स पेडलरो से हुयी, जिनके सम्पर्क में आकर व जल्दी पैसा कमाने के लालच में हमने स्मैक तस्करी का काम करने की योजना बनाई। उसने बताया कि, इसके लिए हमने अपने एक और साथी सौरभ को भी अपने साथ ले लिया। चूँकि देहरादून में काफी शिक्षण संस्थान है, जिनमें काफी संख्या में बाहरी छात्र–छात्राए पढते है। जिन्हे आसानी से नशे का आदि बनाया जा सकता है।

स्विगी व जोमैटो की आड़ में करते थे स्मैक डिलीवर

पूछताछ में उन्होंने बताया कि, इसके अलावा पिछले तीन- चार वर्षो से देहरादून में रहने के दौरान हम नशे के आदी काफी लोगों के सम्पर्क में आ गये थे लेकिन, देहरादून पुलिस की लगातार ड्रग्स पैडलर्स के विरुद्ध हो रही कार्यवाही को देखते हुये लोगों तक स्मैक की डिलीवरी करने के लिए हमने डिलीवरी बॉय के रुप में काम करने की योजना बनाई। क्योंकि स्विगी व जोमैटो वाले रात भर लोगों को खाने – पीने के सामान की डिलीवरी करते हैं और उन पर किसी को भी शक नहीं होता है। इसकी आड़ में हम आसानी से स्मैक को सम्बन्धित व्यक्ति तक डिलीवर कर सकते हैं।

उन्होंने बताया कि, योजना के मुताबिक सौरभ व विशाल स्विगी व जोमैटो में डिलीवरी बॉय का काम करने लगे। नीरज देवबंद से सस्ते दामो में स्मैक को खरीद कर देहरादून लाता था और विशाल व सौरभ स्विगी, जोमैटो के डिलीवरी बॉय बनकर उक्त स्मैक को खरीददारो तक पहुँचाते थे।

जिम में भेष बदलकर की चोरी

चोरी किय़े गये मोबाइल के सम्बन्ध में जानकारी करने पर अभियुक्त नीरज ने बताया कि, मै पहले टर्नर रोड़ स्थित उस जिम में जिम ट्रेनर के रुप में काम करता था। मुझे जानकारी थी कि, वहाँ काफी लोग मँहगे मोबाइल लेकर जिम करने के लिए आते हैं, जिन्हे आसानी से चोरी किया जा सकता है लेकिन, जिम में कैमरे लगे होने के कारण पकडे जाने के डर से हमने वहाँ भेष बदलकर चोरी करने की योजना बनाई। योजना के मुताबिक, सौरभ ने वहाँ मुस्लिम पहनावे व मुँह पर मास्क लगाकर चोरी की घटना को अंजाम दिया।

स्मैक बेचकर खरीदा प्लॉट, बाइक, कार

उक्त ओल्टो कार, जो उनके पास से मिली है, उसे उन्होंने स्मैक बेचकर कमाए गये रुपयो से खरीदा था। इसके अतिरिक्त स्मैक की तस्करी से एक केटीएम बाईक, 03 स्प्लेंडर मोटर साइकिल और पित्थूवाला में 25 लाख कीमत का एक प्लाट खरीदा है। अभियुक्तो की निशानदेही पर पुलिस टीम ने अभियुक्तो के पास से 03 स्पलेडर मोटर साइकिल और एक केटीएम बाइक को भी बरामद किया है। स्मैक बेचकर पित्थूवाला देहरादून में लिया गया 25 लाख के प्लॉट के संबंध में अलग से जब्ती की कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

गिरफ्तार अभियुक्तों का नाम पता:

1-सौरभ कुमार पुत्र जसवीर सिंह निवासी टीचर कॉलोनी थाना देवबंद, जनपद सहारनपुर उत्तर प्रदेश, उम्र 20 वर्ष

2-नीरज कुमार राणा पुत्र राजेश कुमार राणा निवासी गांधी कॉलोनी, थाना देवबंद जनपद सहारनपुर, उत्तर प्रदेश, उम्र 21 वर्ष

3-विशाल कुमार राणा पुत्र राजेश कुमार राणा निवासी उपरोक्त, उम्र 22 वर्ष

बरामदगी का विवरण:

1- 70 ग्राम स्मैक (कीमत लगभग 7 लाख रुपए)

2- स्मैक बेचकर कमाए गए 3 लाख 50 हजार रुपए नगद

3- टर्नर रोड स्थित जिम से चोरी किया गया आईफोन 12 प्रो मैक्स (कीमत लगभग डेढ़ लाख रुपए)

4- ऑल्टो कार 800

5- UK 07 DM 5578 स्प्लेंडर

6- UK 07 FB 4363 स्प्लेंडर

7- UK 07 BU-4918 केटीएम

8- UP 11AN 4593 ब्लेंडर SPL

 

आपराधिक इतिहास:

  • अभियुक्त विशाल राणा और नीरज राणा

1-मु0अ0सं0-185/20 धारा 380/411 भादवी0 थाना नेहरु कॉलोनी जनपद देहरादून।

  • अभियुक्त सौरभ कुमार

1- मु0अ0सं0- 111/22 धारा 380 भादवी0, थाना क्लेमनटाउन देहरादून।

पर्यवेक्षण अधिकारी सरिता डोभाल, पुलिस अधीक्षक नगर और सर्वेश पवार, सहायक पुलिस अधीक्षक/क्षेत्राधिकारी सदर रहे। पुलिस टीम में कुलवंत सिंह जलाल, थानाध्यक्ष क्लेमेंटाउन, व0उ0नि0 राकेश पवार, उप निरीक्षक अमरीश कुमार, उपनिरीक्षक अरविंद पवार, हे0का0 राजकुमार, का0 अजय , का0 प्रदीप खटाना, का0 कृष्णा नन्द , का0 नवीन और का0 भूपेन्द्र शामिल रहे।

वहीं अभियुक्तों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून ने 10 हजार के पुरुस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

By Skgnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.