देहरादून: उत्तराखण्ड राज्य में समान नागरिक संहिता (Uniform Civil Code) के ड्राफ्ट के लिए गठित विशेषज्ञ समिति की तीसरी बैठक नई दिल्ली स्थित उत्तराखण्ड सदन में हुई ।

न्यायाधीश (सेवानिवृत) रंजना प्रकाश देसाई की अध्यक्षता में सम्पन्न बैठक में समिति के सदस्य न्यायाधीश (सेवानिवृत) प्रमोद कोहली, शत्रुघ्न सिंह, आई०ए०एस० (सेवानिवृत), सुरेखा डंगवाल, कुलपति दून विश्वविद्यालय, मनु गौर, सामाजिक कार्यकर्ता और सदस्य सचिव अपर स्थानिक आयुक्त अजय मिश्रा उपस्थित रहे।

बता दें कि, विधानसभा चुनाव-2022 से ठीक पहले सीएम धामी ने सरकार बनते ही प्रदेश में समान नागरिक संहिता लागू करने की बात कही थी। चुनाव परिणाम के बाद भाजपा के सत्ता में वापसी करने पर दोबारा मुख्यमंत्री बने धामी ने राज्य मंत्रिमंडल की पहली बैठक में ही समान नागरिक संहिता (Uniform Civil Code) के लिए मसौदा तैयार करने के लिए एक विशेषज्ञ समिति गठित करने के निर्णय को मंजूरी दी थी। 27 मई को पांच सदस्यीय विशेषज्ञ समिति की घोषणा करते हुए सीएम धामी ने कहा था कि, देवभूमि की संस्कृति को संरक्षित करते हुए सभी धार्मिक समुदायों को एकरूपता प्रदान करने के लिए समान नागरिक संहिता के क्रियान्वयन हेतु विशेषज्ञ समिति का गठन किया गया है।

 

By Skgnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.