देहरादून: उत्तराखंड सरकार ने प्रदेश के लाखों सरकारी कर्मचारियों और पेंशनर्स को बड़ा तोहफा दिया है. सरकार ने महंगाई भत्ते में 3% की वृद्धि (DA hike uttarakhand) के आदेश जारी किए हैं. प्रदेश के कर्मचारियों और पेंशनरों को महंगाई भत्ते का बेताबी से इंतजार था. 1 जनवरी 2022 से लागू हुए 3 फीसदी डीए का आदेश जारी होने के बाद अब कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 34 फ़ीसदी हो गया है. बढ़े हुए महंगाई भत्ते का नियमित भुगतान एक मई यानी जून माह में देय वेतन के साथ होगा. एक जनवरी, 2022 से लेकर 30 अप्रैल तक पुनरीक्षित भत्ते के एरियर का भुगतान नकद किया जाएगा.

सरकार के इस फैसले से कर्मचारियों के वेतन में प्रतिमाह एक हजार से लेकर छह रुपये तक का इजाफा होगा. वित्त अपर सचिव गंगा प्रसाद की ओर से सातवें, छठे और पांचवें वेतनमान को ले रहे कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए बढ़ाए गए महंगाई भत्ते के अलग-अलग आदेश जारी किए गए. सातवां वेतनमान ले रहे राज्य कर्मचारियों, सहायता प्राप्त शिक्षण एवं प्राविधिक शिक्षण संस्थाओं, शहरी स्थानीय निकायों, कार्य प्रभारित कर्मचारियों और यूजीसी वेतनमान में कार्यरत शिक्षकों व पदधारकों और पेंशनर्स को एक जनवरी, 2022 से तीन प्रतिशत बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता मिलेगा.

इससे पहले चंपावत उपचुनाव की आचार संहिता के चलते सरकार ने इसका जीओ नहीं किया था. जैसे ही मतदान खत्म हुआ तो वित्त विभाग ने इसके आदेश कर दिए हैं. इस फैसले का लाभ प्रदेश के चार लाख से अधिक कर्मचारी और पेंशनर्स को मिलेगा. बढ़ोत्तरी के बाद अब कर्मचारियों का कुल महंगाई भत्ता बढ़कर मूल वेतन का 34 प्रतिशत पहुंच गया है.

By Skgnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.