देहरादून: उत्तराखंड में देह व्यापार का गोरखधंधा बढ़ता जा रहा है. प्रदेश में तमाम जगहों पर सेक्स रैकेट के मामले सामने आ रहे हैं. वहीं अब पहाड़ों की रानी कही जाने मसूरी में भी पुलिस ने सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने अनैतिक व्यापार के सक्रिय अन्तर्राज्जीय गिरोह के सरगना सहित पांच सदस्य गिरफ्तार किये, जिनमे 02 शादीशुदा महिलायें भी शामिल हैं. ये बाहरी राज्यों से आने वाले पर्यटकों को Whatsapp व ऑनलाइन साइट जस्ट डायल के माध्यम से संपर्क कर धंधा चलाते थे. इनसे आपत्तिजनक सामग्री, टेबलेट, नगद धनराशि, स्विफ्ट व ब्रेजा कार बरामद किया गया है.

मामले के अनुसार, पुलिस को पिछले कुछ दिनों से मसूरी में ऑनलाइन नंबरों से अनैतिक व्यापार की शिकायत आ रही थी. जिस पर पुलिस उपमहानिरीक्षक (DIG) /वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP) देहरादून ने तत्काल संज्ञान लिया और एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट (AHTU) तथा एसओजी की टीम बनाकर उक्त ऑनलाइन सैक्स रैकेट की जांच व तत्काल वैधानिक कार्यवाही के निर्देश दिये. AHTU टीम ने गोपनीय जांच की और मसूरी क्षेत्र में ऑनलाइन अनैतिक व्यापार में संलिप्त लोगों की जानकारी ली. इसमें ज्ञात हुआ कि हरियाणा के कुछ व्यक्ति स्पा सर्विस के नाम पर मसूरी में कई जगह अनैतिक व्यापार के लिए बाहरी राज्यों से महिलाओं को लाकर Whatsapp व ऑनलाईन सैक्स रैकेट चला रहे हैं.

पुलिस अधीक्षक अपराध के निर्देशन व नोडल प्रभारी एएचटीयू/ क्षेत्राधिकारी नेहरू कॉलोनी के पर्यवेक्षण में बीते शनिवार को देर रात्रि AHTU टीम ने एनजीओ इम्पावरिंग पीपल के मुख्य कार्यकारी ज्ञानेन्द्र कुमार को साथ लिया. इसके बाद मसूरी क्षेत्र में ऑनलाईन स्पा सर्विस चलाने वाले गिरोह के 03 पुरुष व 02 महिलाओं को ऑनलाईन सैक्स रैकेट चलाने के अपराध में मसूरी क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया. इन अपराधियों से 01 स्विफ्ट कार व 01 ब्रिजा कार बरामद की गयी, जिससे अपराधीगण अनैतिक व्यापार में शामिल महिलाओं को लाने और ले जाने का काम करते थे. पुलिस ने अभियुक्तों के विरुद्ध थाना मसूरी पर अनैतिक व्यापार निवारण अधिनियम की विभिन्न धाराओं में अभियोग पंजीकृत कराया. अभियुक्तों को न्यायालय पेश किया।

पूछताछ में गिरोह के सरगना किशन उर्फ सोनू ने बताया कि, लॉकडाउन से पहले मसूरी के होटल में काम करता था और अपने घर हरीयाणा चला गया था. पिछले माह ही मसूरी आया और उसने स्पा सर्विस के नाम पर जस्ट डॉयल व अन्य ऑनलाइन टेलिफोनिक साइट्स पर अपना रजिस्ट्रेशन कराया. इसके बाद स्पा सर्विस की आड़ में अनैतिक व्यापार करने का कार्य मसूरी क्षेत्र में करने लगा. किशन द्वारा व्हाट्सएप व अन्य सोशल मीडिया के माध्यम से विभिन्न व्यक्तियों/बाहरी राज्य से आने वाले पर्यटकों को लड़कियों की फोटो भेज कर उनसे ऑनलाइन पेमेंट लेकर उन्हें अनैतिक व्यापार के लिए मसूरी के विभिन्न जगहों पर महिलाएं उपलब्ध कराता था. इस कार्य के लिए वह विभिन्न राज्यों से महिलाओं को बुलाता था. अभियुक्तों ने बताया कि इससे पहले भी वह दिल्ली व अन्य राज्यों में अनैतिक व्यापार के कार्यों में संलिप्त था. अभियुक्तों से आपत्तिजनक सामग्री, टेबलेट, नगद धनराशि, स्विफ्ट व ब्रेजा कार बरामद किया गया.

गिरफ्तार अभियुक्तों का नाम पता:

  1. किशन उर्फ सोनू पुत्र बलवीर सिंह, निवासी बीबीपुर जींद, उम्र 30 साल (सरगना)
  2. अमरजीत पुत्र सुरेश, निवासी ग्राम मोहल्ला गुप्ता कॉलोनी वार्ड नंबर 32 जिंद हरियाणा, उम्र 28 वर्ष
  3. स्वप्न मंडल पुत्र दुलाल मंडल, निवासी मोहल्ला चंद्रपुर वार्ड हबीबपुर जिला मालदा कोलकाता पश्चिम बंगाल, उम्र 28
  4. कंचन गुप्ता मनोज गुप्ता, निवासी 480 शकूरपुर जेजे कॉलोनी सरस्वती विहार पश्चिमी दिल्ली, उम्र 32 वर्ष
  5. सुधा देवी पत्नी भूरा सिंह, निवासी सिकंदरपुर 40 बरकता पुर तहसील कोल बरकतपुर अलीगढ़ उत्तर प्रदेश, उम्र 28 वर्ष

पर्यवेक्षण अधिकारी:

अनिल कुमार जोशी नोडल अधिकारी AHTU देहरादून

पुलिस टीम

  • उप निरीक्षक हेमंत खंडूरी A.H.T. U देहरादून
  • महिला उपनिरीक्षक अनीता नेगी A.H.T. U देहरादून
  • हेड कांस्टेबल महेंद्र सिंह A.H.T. U
  • कांस्टेबल धर्मेंद्र A.H.T. U
  • कांस्टेबल देवेंद्र A.H.T. U
  • महिला कांस्टेबल रचना A.H.T. U
  • कांस्टेबल आशीष AHTU/SOG देहरादून
  • संपूर्ण कार्यवाही के दौरान एनजीओ इम्पावरिंग पीपल के मुख्य कार्यकारी ज्ञानेन्द्र कुमार भी शामिल रहे.

By Skgnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.