Champawat By Election Result: चंपावत उपचुनाव में सीएम पुष्कर सिंह धामी ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की है. वहीं कांग्रेस प्रत्याशी निर्मला गहतोड़ी धामी के सामने टिक ही नहीं पाईं और कांग्रेस प्रत्याशी की जमानत तक जब्त हो गई.

चंपावत विधानसभा सीट के उपचुनाव की मतगणना जारी है. उपचुनाव के लिए 31 मई को वोट डाले गए थे. भाजपा प्रत्याशी सीएम पुष्कर सिंह धामी के अलावा कांग्रेस की निर्मला गहतोड़ी, सपा समर्थित मनोज कुमार भट्ट और निर्दलीय हिमांशु गड़कोटी यहाँ मैदान में थे. 31 मई को हुए मतदान में कुल 61,576 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था. मतदान प्रतिशत 64 फीसद के अधिक मतदान रहा.

चम्पावत उपचुनाव के लिए मतगणना सुबह 08 बजे से कड़ी सुरक्षा के बीच जिला मुख्यालय के गौरलचौड़ मैदान स्थित वन पंचायत भवन सभागार में शुरू हुई. काउंटिंग के पहले राउंड में सीएम धामी को बंपर बढ़त के साथ 3,856 मत और कांग्रेस की निर्मला गहतोड़ी को 165 वोट मिले. दूसरे राउंड में मुख्यमंत्री धामी को 7435 वोट पड़े. वहीं कांग्रेस को सिर्फ 312 वोट मिले. तीसरे राउंड की गिनती के बाद सीएम पुष्कर सिंह धामी 10 हजार से अधिक वोटों की बढ़त ली. चौथे राउंड में जहां धामी को 13,215 मत मिले, वहीं कांग्रेस प्रत्याशी निर्मला गहतोड़ी 492 वोटों तक सिमटी. पांचवें राउंड में सीएम धामी को 17,904 वोट मिले, निर्मला गहतोड़ी को 804 वोट ही मिले. 6 राउंड की मतगणना के बाद सीएम धामी को कुल 22,289 वोट मिले. जबकि कांग्रेस उम्मीदवार निर्मला गहतोड़ी को कुल 1093 वोट मिले. सातवें चरण की गणना तक भाजपा प्रत्याशी सीएम पुष्कर सिंह धामी को 25,219 वोट, जबकि कांग्रेस प्रत्याशी निर्मला गहतोडी को कुल 1,273 वाेट मिले हैं. अब तक सामने आए रुझान में सीएम पुष्कर सिंह धामी बंपर वोटों से आगे चल रहे हैं, जिससे उनकी जीत लगभग तय मानी जा रही है.

गौर हो कि, विधानसभा चुनाव में पुष्कर सिंह धामी खटीमा से चुनाव हार गए थे. चंपावत सीट पर लगातार दूसरी बार चुनाव जीतने वाले कैलाश गहतोड़ी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के लिए यह सीट छोड़ी थी. जिसके चलते उपचुनाव हुआ. धामी को सीएम की कुर्सी पर बने रहने के लिए उपचुनाव जीतना जरूरी है.

वहीं उत्तराखंड में मुख्यमंत्रियों के उपचुनावों की बात करें तो यह इतिहास जीत का रहा है. राज्य में एनडी तिवारी, बीसी खंडूड़ी, विजय बहुगुणा और हरीश रावत के सामने उपचुनाव की चुनौती आई. अब सीएम धामी के सामने यह चुनौती है.

By Skgnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.