बागेश्वर: उत्तराखंड के बागेश्वर जिले में एक सरकारी स्कूल में अजीबो-गरीब घटना सामने आई है। यहां स्कूल की करीब 15 छात्राएं अचानक चिल्लाने लगीं और कुछ देर में वो बेहोश हो गई। छात्राओं की यह हालत देखकर स्कूल के अन्य छात्र और शिक्षक भी डर गए। ग्रामीण इसे भूत प्रेत का असर होने का दावा कर रहे, जबकि स्वास्थ्य विभाग इसे मास हिस्टीरिया (Mass Hysteria) बता रहा है।

 

जानकारी के अनुसार, रेखौली निवासी बलबीर सिंह ने बताया कि, वो कभी अलग-अलग स्थान पर बैठकर चीख रही हैं तो कभी बालों को खोलकर कांप रही हैं। बलबीर सिंह ने बताया कि, बुधवार को जैसे ही क्लास शुरू हुई, एक-एक करके करीब 15 लड़कियां चीखने-चिल्लाने लगीं। ग्रामीणों को इस बात का पता चला तो वो स्कूल में भभूति लगाने वालों को लेकर आए। कुछ देर बाद लड़कियां शांत हो गईं और उन्हें अभिभावकों को बुलाकर घर भेज दिया गया। घटना की जानकारी मुख्य शिक्षा अधिकारी गजेंद्र सोन को दी गई।

मामले की सूचना पर डीएम रीना जोशी ने गुरुवार को एसडीएम हरगिरी के नेतृत्व में स्वास्थ्य और शिक्षा विभाग की टीम भेजी। एसडीएम ने बताया कि, उनके सामने भी स्कूल में 06 छात्राएं अजीबोगरीब हरकत करती दिखाई दीं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को तीन दिन तक छात्राओं की देखरेख करने और जरूरी होने पर दवा आदि देने के निर्देश दिए हैं।

वहीं ग्रामीणों की तसल्ली के लिए स्कूल में पूजापाठ कराने पर भी सहमति बनी है। वहीं स्वास्थ्य विभाग के काउंसलर ने विद्यार्थियों की काउंसलिंग की। संभवतः विद्यार्थियों को मास हिस्टीरिया (बदहवासी) से ग्रसित पाया गया है। बताया कि इस स्थिति में एक बच्चे के चीखने-चिल्लाने पर अन्य बच्चे भी देखादेखी में चिल्लाने लगते हैं। मास हिस्टीरिया में शरीर में ऐंठन आने के साथ ही बच्चे चिल्लाने लगते हैं। विद्यालय के सभी विद्यार्थियों के साथ ही अभिभावकों की काउंसलिंग की गई।

मास हिस्टीरिया (Mass Hysteria) क्या है?

मनोवैज्ञानिकों का मानना है कि, यह मास हिस्टीरिया के लक्षण हैं। मास हिस्टीरिया एक ऐसी समस्या है जब किसी ग्रुप के लोग एक साथ अचानक असामान्य व्यवहार करने लगते हैं। ये हरकतें विचारों और भावनाओं या स्वास्थ्य लक्षणों के चलते आ सकता है। उसमें एक जैसे स्वास्थ्य लक्षण या विचार और भावनाएं दिखाई देती हैं। एक्सपर्ट मानते हैं कि मास हिस्टीरिया एक प्रकार का कन्वर्जन डिसऑर्डर या मानसिक स्थिति है। इसमें भावनात्मक या मानसिक तनाव से प्रेरित शारीरिक लक्षण शामिल होते हैं।

By Skgnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.