रुद्रप्रयाग: उत्तराखंड के प्रसिद्ध गायक व रंगकर्मी नवीन सेमवाल का निधन हो गया है। देवभूमि फिल्म जगत के लिए महीने भर में ही यह दूसरी बुरी खबर है। बीते दिनों उत्तराखंड ने बहुमुखी प्रतिभा के धनी गुंजन डंगवाल को एक सड़क हादसे में खो दिया था और अब ये दुःखद खबर आई है। 42 वर्षीय नवीन सेमवाल के निधन से उत्तराखंड फिल्म जगत में शोक की लहर दौड़ पड़ी है।

बताया गया कि, बहुमुखी प्रतिभा के धनी नवीन सेमवाल की काफी समय से तबियत खराब चल रही थी। इस बीच वह देहरादून के एक अस्पताल में एडमिट भी रहे थे। इसके बाद करीब 5 महीने पहले वह रुद्रप्रयाग अपने घर लौट आए थे। फिर से तबियत बिगड़ने पर वह देहरादून इलाज के लिए गए थे। वहीं आज उनके आकम्सिक निधन से उत्तराखंड फिल्म जगत और उनके प्रशंसकों में शोक की लहर है।

‘मेरी बामणी..’ जैसे गीतों में उनके अभिनय के साथ- साथ उनकी गायकी को भी खूब सराहना मिली। बहुमुखी प्रतिभा के धनी नवीन सेमवाल ने कई हास्य फिल्मों के जरिए लोगों को खूब हंसाया। उन्होंने व्यंग्य के जरिए कई मुद्दों पर सामाज को संदेश देने का भी का किया।

 

नवीन सेमवाल रुद्रप्रयाग जिले में ऊखीमठ ब्लॉक के खाट गांव के रहने वाले थे। उनके पिता स्वर्गीय मुरलीधर सेमवाल एक नामी ज्योतिषाचार्य हुआ करते थे। नवीन सेमवाल तीन भाई और दो बहनों में तीसरे नंबर के थे। वह अपने परिवार में दो भाइयों और माता के साथ रहते थे। नवीन सेमवाल की पत्नी एक आंगबाड़ी कार्यकत्री हैं। उनके दो बेटे और एक बेटी है। उनका सबसे बड़ा बेटा 14 साल का है।

भारतजन न्यूज से बातचीत में रुद्रप्रयाग निवासी पत्रकार सुनीत चौधरी ने बताया कि वह बचपन से ही नवीन सेमवाल के अच्छे मित्र रहे और सहपाठी भी थे। उन्होंने कई कार्यक्रमों में मंच पर साथ प्रस्तुति भी दी। उन्होंने बताया कि, नवीन काफी खुशमिजाज स्वभाव वाले व्यक्ति थे। साथ ही एक अच्छे कलाकार भी थे, उनके असामयिक निधन से उत्तराखंड फिल्म जगत के साथ-साथ उनके लिए भी व्यक्तिगत तौर पर अपूरणीय क्षति हुई है।

वहीं नवीन सेमवाल के निधन पर लोकगायक महेंद्र माही रावत, किशन महिपाल, गजेंद्र राणा समेत उत्तराखंड फिल्म जगत से जुड़े तमाम कलाकार ने शोक व्यक्त किया है।

By Skgnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.