• बाल आयोग के सदस्य दीपक गुलाटी ने मालदेवता के ‘शिव जूनियर हाईस्कूल’ मे बने भारत के गलत नक्शे पर जताई आपत्ति
  • मालदेवता के ‘शिव जूनियर हाईस्कूल’ मे बने भारत के गलत नक्शे मे नही दर्शाई गई देश की राजधानी दिल्ली
  • राष्ट्रधर्म सबसे ऊपर छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं’- दीपक गुलाटी

देहरादून: आज उत्तराखण्ड बाल अधिकार संरक्षण आयोग नें मालदेवता के ‘शिव जूनियर हाईस्कूल’ में बने आपदा राहत शिविर में पहुंच कर आपदा प्रभावित परिवारों को राशन आदि आवश्यक राहत सामग्री वितरित की। साथ ही शिविर में ठहरे बच्चों की पढ़ाई व खेल कूद संबंधित जानकारी ली।

निरीक्षण के दौरान स्कूल की दीवार पर बने भारत के गलत नक्शे ने खींचा आयोग के सदस्य दीपक गुलाटी का ध्यान

वहीं अपने निरीक्षण के दौरान आयोग के सदस्य दीपक गुलाटी ने स्कूल में बने भारत के गलत नक्शे को लेकर प्रचार्य से कड़ी नाराजगी जताई। उन्होंने बताया कि स्कूल में बने भारत के नक्शे में देश की राजधानी दिल्ली को ही नही दिखाया गया है जो कि एक तरह से राष्ट्रद्रोह की श्रेणी में आता है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रधर्म सबसे ऊपर है इसके साथ किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ बर्दाश्त नही की जा सकती।

इस मौके पर आयोग के सदस्य दीपक गुलाटी ने स्कूल की दीवार पर भारत देश का नक्शा गलत बनाये जाने को लेकर जब स्कूल के प्राचार्य से बात की तो उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि यह नक्शा लगभग 2 से 4 दिन पूर्व ही बनाया गया है और नक्शे में दिल्ली को ना दर्शाया जाना एक मानवीय भूल है, यह कह कर प्राचार्य नें अपना पल्ला झाड़ा, जबकि मौके पर नक्शा बनाने वाले पेंटर से बात की तो उसके द्वारा बताया गया कि यह नक्शा करीब 20 दिन पूर्व बनाया गया है।

दीपक गुलाटी ने कहा कि जब शिक्षा के मंदिर में ही देश का नक्शा गलत तरीके से प्रदर्शित किया गया है तो ऐसे में यह महज लापरवाही या गलती नहीं बल्कि राष्ट्र से संबंधित एक गंभीर प्रकरण है। उन्होंने स्कूल के प्राचार्य से नाराजगी व्यक्त करते हुए इसे तत्काल ठीक करने के लिए कहा।

By Skgnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.