UKSSSC Paper Leak देहरादून: उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UKSSSC) द्वारा आयोजित स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा प्रश्न पत्र लीक मामले में रामनगर का एनजीओ संचालक को गिरफ्तार किया गया है। भर्ती कांड में यह अब तक की 21वीं गिरफ्तारी है।

उत्तराखंड अधीनस्थ चयन सेवा आयोग द्वारा वीडियो, वीपीडीओ भर्ती परीक्षा परिणाम में प्रश्नपत्र लीक मामले में एसटीएफ ने इससे पहले 20 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है। एसटीएफ टीम संदिग्ध चयनित परीक्षार्थियों से पूछताछ कर बयान अंकित कर रही है। जिसके क्रम में कुछ अभ्यर्थियों ने बयान दिया कि, उनको रामनगर निवासी चंदन मनराल ने परीक्षा से एक दिन पहले धामपुर ले जाकर एक घर पर प्रश्न पत्र याद करवाया था।

इस बिंदु पर जब जांच की गई तो यह पता चला कि चंदन सिंह मनराल, निवासी रामनगर पहले से गिरफ्तार अभियुक्तों के सम्पर्क में है और उसने कई अभ्यर्थियों को प्रश्नपत्र उपलब्ध करवाया है।

STF टीम चंदन मनराल को पूछताछ के लिए STF कार्यालय लाई। जहां पर विस्तृत पूछताछ की गई और पूछताछ करने के बाद पर्याप्त साक्ष्यों के आधार पर अभियुक्त चंदन मनराल को गिरफ्तार कर लिया गया है।

गिरफ्तार अभियुक्त 63 वर्षीय चंदन सिंह मनराल पुत्र झगड़ सिंह मनराल, लखनपुर रामनगर का निवासी है। अभियुक्त चंदन मनराल से एसटीएफ कार्यालय में विस्तृत पूछताछ की गई। जिसने पूछताछ में बताया कि, वह अन्य अभियुक्तों से पिछले कुछ सालों से संपर्क में है और वर्ष 2021 में आयोजित VDO भर्ती परीक्षा में अपने क्षेत्र के कई लोगों को लाखों रुपए लेकर प्रश्न पत्र उपलब्ध करवाया है।

अभियुक्त से की गई पूछताछ में अभियुक्त द्वारा अर्जित करोड़ों की संपत्ति की जानकारी मिली है।

अर्जित संपत्ति

  • करीब 15 एकड़ जमीन पीरुमदार में।
  • करीब 10 बीघा खेती की भूमि रामनगर में।
  • मनराल स्टोन क्रेशर के नाम से एक स्टोन क्रेशर पीरुमदार में, जिसमें करीब सात बड़े ट्रक एवं तीन पोकलैंड।
  • मनराल ट्रैवल्स एजेंसी, जिसमें करीब 13 बस, जिनमें से 10 बस स्कूलों में एवं तीन बस पहाड़ में चलती है।
  • बाल महिला कल्याण समिति नाम से एनजीओ।
  • रामनगर नैनीताल में 3 मंजिला मकान व ऑफिस एवं आधा बीघा मुख्य सड़क पर कमर्शियल प्लाट।
  • आधा दर्जन से अधिक बैंक खाते।

By Skgnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.