पिथौरागढ़: उत्तराखंड में विभिन्न जगहों पर सड़क हादसों में लगातार लोगों की जानें जा रही है. अब सीमांत जनपद पिथौरागढ़ से दुखद खबर आई है. यहां थल-डीडीहाट सड़क पर एक कार पमतोड़ी के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई. इस हादसे में चार लोगों की दर्दनाक मौत हो गई. मृतकों में सास-बहू और देवरानी-जेठानी शामिल हैं. वहीं परिवार के दो पुरुष घायल हो गए. घायलों को रेस्क्यू कर उपचार के लिए हायर सेंटर रेफर किया गया है. दोनों भाई गांव में पूजा कर साली को बागेश्वर छोडने परिवार के साथ जा रहे थे. लेकिन दोनों भाइयों ने इस हादसे में अपनी पत्नियों के साथ मां को हमेशा के लिए खो दिया, जबकि दोनों खुद के जीवन के लिए संघर्ष कर रहे हैं. इस घटना से क्षेत्र में शोक की लहर है.

जानकारी के अनुसार, पूर्व शिक्षक चंदन सिंह बसेड़ा (उम्र 61 वर्ष) अपने परिवार के साथ नैनीताल जिले के हल्द्वानी में रहते हैं. रविवार को चंदन सिंह बसेड़ा अपने मूल गांव साता में पूजा कर अपने परिवार के साथ कार से बागेश्वर की तरफ जा रहे थे. तभी थल से 9 किमी दूर पमतोड़ी के पास दोपहर करीब एक बजे उनका गाड़ी से नियंत्रण खो गया और कार UK 02A 6409 अनियंत्रित होकर करीब 200 मीटर गहरी खाई में गिर गई. जिसमे कुल 6 लोग (4 महिला, 2 पुरुष) सवार थे. हादसे में कार के परखच्चे उड़ गए. कार चला रहा चंदन सिंह कार के खाई में गिरने के दौरान वाहन से छिटक गया था और घायलावस्था में खाई से घिसट कर सड़क पर पहुंचा. सड़क पर पहुंचकर एक बाइक सवार को घटना की सूचना दी. बाइक सवार ने पुलिस तक घटना की जानकारी पहुंचाई.

मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और खाई में उतकर रेक्क्यू ऑपरेशन शुरू किया. दुर्घटना के दौरान एसएसबी के जवान बल के वाहन से अल्मोड़ा से डीडीहाट को जा रहे थे. मौके पर वाहन से उतर कर राहत कार्य में जुट गए. दो घंटे बाद बमुश्किल शवों व घायलों को रेस्क्यू किया.

हादसे में चंदन सिंह बसेड़ा की पत्नी तुलसी देवी उम्र 53 वर्ष, चंदन सिंह बसेड़ा के छोटे भाई गोविंद सिंह बसेड़ा की पत्नी आशा बसेड़ा उम्र 50 वर्ष और उनकी साली तारा देवी उम्र 48 वर्ष की मौके पर ही मौत हो गई. वहीं, उनकी 90 वर्षीय माता देवकी देवी की इलाज के दौरान हॉस्पिटल में मौत हो गई. मृतका तुलसी देवी बागेश्वर के जूनियर हाईस्कूल में शिक्षिका थी. जबकि, कार चला रहे चंदन सिंह बसेड़ा और छोटा भाई गोविंद सिंह बसेड़ा (उम्र 57 वर्ष) घायल हो गए. दोनों घायल भाइयों को उनकी गंभीर हालत को देखते हुए हायर सेंटर रेफर किया गया.

हल्द्वानी में बस चुके चन्दन सिंह बसेड़ा अपने भाई और पूरे परिवार के साथ तीन साल बाद गांव में पूजा अर्चना के लिए आए हुए थे. कल उन्होंने मलयनाथ मंदिर में पूजा अर्चना की और आज साता (चौबाटी) में जगतमल मन्दिर में पूजा अर्चना कर परिवार को छोड़ने बागेश्वर जा रहे थे, तभी हादसा हो गया.

हादसे में मृतक

1- देवकी देवी पत्नी धन सिंह उम्र 90 वर्ष
2- आशा बसेड़ा पत्नी गोविन्द सिंह उम्र 51 वर्ष
3- देवी पत्नी चंदन सिंह उम्र 50 वर्ष निवासीगण पुनीगांव पिथौरागढ़
4- तारा देवी पत्नी बलवंत सिंह निवासी मंडल शेरा बागेश्वर उम्र 50 वर्ष

हादसे में मृतक घायल

1- चंदन सिंह बसेड़ा पुत्र धन सिंह उम्र 62 वर्ष
2- गोविन्द सिंह पुत्र धन सिंह उम्र 57 वर्ष निवासी गण पुनीगांव पिथौरागढ़

By Skgnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.