*** उत्तराखंड विकास पार्टी ने गैरसैण को राजधानी बनाने के लिए चलाया अभियान, #उत्तराखंड_की_राजधानी_गैरसैण *** *** उत्तराखंड की राजधानी बने गैरसैण - उत्तराखंड विकास पार्टी *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400, ऑफिस 01332224100 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

नगर पंचायत के सभासदों ने ज्ञापन देकर की कार्रवाई की मांग, नगर पंचायत अध्यक्ष व अधिशासी अधिकारी की बीच खींचतान, विकास कार्य बाधित

09-07-2020 19:15:00 By: एडमिन

पोखरी (चमोली) से यशवंत राणा

चमोली जिले के नगर पचायत पोखरी मे नगर पचायत अध्यक्ष और अधिशासी अधिकारी के बीच विवाद थमने का नाम नही ले रहा है। जिस कारण विकास कार्य वाधित हो रहे दोनों का एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। ऐसे में जहां नगर क्षेत्र का विकास वाधित हो रहा है वहीं सफाई ब्यवस्था चैपट हो गयी है। इस संबंध में गुरूवार को नगर पंचायत के पार्षदों ने उपजिलाधिकारी पोखरी को ज्ञापन देकर आवश्यक कार्रवाई किये जाने की मांग की है।

 

नगर पंचायत पोखरी के पार्षद योगेंद्र सिंह, सुरजी देवी, सतेंद्र सिंह, हनुमत सिंह, सोहन लाल, रेखा सती, सुभद्रा देवी का कहना है कि अध्यक्ष व अधिशासी अधिकारी के बीच एक लंबे समय से विवाद चला आ रहा है। जिसका खामियाजा नगर के लोगों को भुगतना पड़ रहा है। दोनों के बीच चली खींचतान के कारण नगर की सफाई व्यवस्था चैपट हो गई है। लिहाजा नगर के विकास व लोगों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए उन्होंने उपजिलाधिकारी से इस संबंध में उचित कार्रवाई किये जाने की मांग की है।

 

इधर नगर पचायत पचायत अध्यक्ष लक्ष्मी प्रसाद पत का कहना है कि अधिशासी अधिकारी की मनमानी के कारण पर्यावरण मित्रो और अन्य कर्मचारियों का वेतन नही निकल रहा है। गाडी मे तेल नहीं होने के कारण पूरी सफाई व्यवस्था चरमरा गयी है। बाजार मे जगह-जगह कूडे के डेर लगे हुये हैं। गुरूवार को नगर क्षेत्र के कुछ कार्याे के टेण्डर होने थे लेकिन अधिशासी अधिकारी के यहां न होने के कारण इसे स्थगित करना पड़ रहा है। इससे सरकारी धन की अनावश्यक बर्वाद हो रही है और विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं। उनका यह भी आरोप है कि नगर पचायत मे भारी अनियमिताये की गयी है जिनकी जांच के लिये और अधिशासी अधिकारी के स्थानांतरण के लिये उनके ओर से कई बार  मुख्यमंत्री से मौखिक और लिखित मे कह दिया है लेकिन आज तक जांच नही हुई है। नगर पचायत अध्यक्ष का कहना है कि यदि अधिशासी अधिकारी का स्थानातंरण व जांच नहीं की जाती है तो वे आमरण अनशन के लिए बाध्य होंगे।

 

वहीं अधिशासी अधिकारी नन्दराम तिवारी का कहना है कि नगर पंचायत अध्यक्ष की आरे से उन पर लगाये गये सारे आरोप निराधार है। वे नियमो से बाहर कोई कार्य नही कर सकते हैं। अध्यक्ष उन पर नियम विरोध कार्य करने के लिये दबाव बनाया जा रहा है। कहा कि अध्यक्ष बिना टेंडर प्रक्रिया के कई कार्य करवा रहे है। जो नियम विरूद्ध है। वे हर प्रकार की जांच के लिए तैयार है। उनका स्वास्थ्य खराब होने के कारण वे मेडिकल पर चले गये है। 

 

पोखरी व्यापार मंडल ने उठाई सफाई की मांग

व्यापार मंडल पोखरी ने नगर पंचायत पोखरी बाजार की सफाई ब्यवस्था ठीक करने की मांग की है। व्यापार मंडल अध्यक्ष मगल सिह नेगी, महिधर पंत, कंुवर सिह चैधरी का कहना है कि नगर पचायत की लापरवाही के कारण पोखरी बाजार की सफाई व्यवस्था चरमरा गयी है। चारों और गंदगी और कूडे के ढेर लगे हुये हैं। जिससे लोगों को भारी परेशानी हो रही है।