*** उत्तराखंड विकास पार्टी ने गैरसैण को राजधानी बनाने के लिए चलाया अभियान, #उत्तराखंड_की_राजधानी_गैरसैण *** *** उत्तराखंड की राजधानी बने गैरसैण - उत्तराखंड विकास पार्टी *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400, ऑफिस 01332224100 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

यातायात के नियमों की अनदेखी करने पर 29 वाहनों का हुआ चालान

29-10-2020 23:28:54 By: एडमिन

गोपेश्वर (चमोली)। चमोली पुलिस, परिवहन एवं राजस्व की संयुक्त टीम ने गैरसैंण-महलचैरी एवं थराली-ग्वालदम मोटर मार्ग पर वाहनों चैकिंग करते हुए गुरूवार को 29 वाहनों का चालन किया।

जिलाधिकारी चमोली स्वाति एस भदौरिया ने पुलिस, परिवहन एवं राजस्व विभाग को संयुक्त टीम बनाकर सड़कों पर सघन चैकिंग अभियान चलाते हुए यातायात नियमों की अनदेखी करने एवं कोविड नियमों का पालन न करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे। एआरटीओ आल्विन राॅक्सी ने बताया कि चैकिंग के दौरान ओवरलोडिंग, माल वाहन में सवारी ढोने, प्राइवेट वाहन का व्यावसायिक इस्तेमाल किए जाने पर 29 चालान किए गए और पांच टैक्टर ट्राॅली को सीज किया गया है।

वही लामबगड में सौ वाहनों पर मास्क नहीं तो सीट नही के स्टीकर चस्पा कर यात्रियों को कोविड संक्रमण के प्रति सर्तक एवं सावधानी रखने के लिए जागरूक किया गया। जिलाधिकारी ने सभी टैक्सी यूनियनों, वाहन चालकों और सवारियों को कोरोना संक्रमण से बचने के लिए जरूरी सावधानी रखने की अपील की है। उन्होंने वाहनों को सुबह सायं दोनों टाइम सेेनेटाइज्ड करने तथा यात्रा करते समय अनिवार्य रूप से मास्क पहनने को कहा है, ताकि कोरोना संक्रमण को रोका जा सके।